लो ब्‍लड शुगर हो तो सामने आते हैं ये 9 लक्षण

low

लो ब्‍लड शुगर को हाइपोग्‍लाइसेमिया भी कहा जाता है। डायबिटीज़ के मरीज़ों में यह स्थिति बहुत खतरनाक मानी जाती है और कई बार मधुमेह को कंट्रोल रखने के बावजूद भी ऐसी परिस्थिति आ सकती है।

क्‍या है हाइपोग्‍लाइसेमिया

जिन लोगों की बॉडी में लो ब्‍लड शुगर की समस्‍या रहती है उसे हाइपोग्‍लाइसेमिया कहते हैं। लो ब्‍लड शुगर का संबंध डायबिटीज़ से होता है लेकिन कभी-कभी हाइपोगलाइसेमिया मधुमेह के बिना भी हो जाता है।

इसके अलावा हाइपोग्‍लाइसेमिया का कारण हार्मोनल कमी, गंभीर रोग और शराब का अत्‍यधिक सेवन भी हो सकता है।

जब खाना खाने के 4 घंटे बाद ब्‍लड शुगर गिरने लगे तो इसका मतलब है कि उस शख्‍स को हाइपोग्‍लाइसेमिया है। ऐसा खाना खाने के बाद अत्‍यधिक मात्रा में इंसुलिन का उत्‍पादन होने के कारण होता है।

low 2

साल 2015 में प्रकाशित हुई एक स्‍टडी के मुताबिक हाइपोग्‍लाइसेमिया की स्थिति सबसे ज्‍यादा टाइप 2 डायबिटीज़ के मरीज़ों और इंसुलिन लेने वाले लोगों में आती है। जब ब्‍लड शुगर का स्‍तर बहुत ज्‍यादा गिर जाता है तो इसके कारण आपको चक्‍कर आने की समस्‍या हो सकती है और अगर इसका ईलाज ना किया जाए तो मरीज़ कोमा तक में जा सकता है।

अचानक से ब्‍लड शुगर के लो होने पर मरीज़ को इससे पहले कुछ लक्षण दिखाई देते हैं, अगर मरीज़ इन संकेतों को समझ ले तो वो परिस्थिति को गंभीर होने से बचा सकता है।

  • दवा लेना लेकिन खाना समय पर ना खाना।
  • बताई गई दवा का ज्‍यादा मात्रा में सेवन
  • आधुनिक लाइफस्‍टाइल और शारीरिक व्‍यायाम की कमी।
  • किडनी रोग की वजह से मधुमेह में लेने वाली दवाओं का असर कम हो जाना।
  • बुखार या ऐसी किसी परिस्थिति के कारण कैटाबॉलिज्‍म बढ़ जाना और मधुमेह की दवा का बहुत ज्‍यादा असर करना।

कुछ मामलों में आप लोग ब्‍लड शुगर के लक्षणों को पहचान ही नहीं पाते हैं इसलिए आपको इस बारे में पूरी जानकारी रखना बहुत जरूरी है। इन बातों का भी ध्‍यान रखें -:

low 3

भूख बढ़ना

अगर पूरा खाना खाने के बाद भी आपकी भूख शांत नहीं हो रही या आपको अचानक से कुछ खाने का मन कर रहा है तो इसका मतलब है कि आपके शरीर को और ज्‍यादा ग्‍लूकोज़ की जरूरत है।

बेचैन रहना

ब्‍लड शुगर लेवल के गिरने पर एड्रेनल ग्‍लैंग एपिनेफ्राइन नामक हार्मोन रिलीज़ करते हैं जोकि लिवर को ज्‍यादा ग्‍लूकोज़ बनाने का संकेत देता है। इस जल्‍दी के कारण मरीज़ को बेचैनी महसूस होने लगती है।

ध्‍यान ना लगा पाना

एकाग्रता की कमी, कंफ्यूज़ और परेशान रहना भी सामान्‍य लक्षणों में से एक हैं।

खड़े रहने में दिक्‍कत

लो ब्‍लड शुगर का असर आपके बोलने पर भी पड़ता है और इसकी वजह से आप चलते या खड़े होते हुए समय सीधे नहीं रह पाते हैं। कुछ मामलों में तो आंखों की रोशनी एकदम से धुंधलाने लगती है।

नोकटर्नल हाइपोग्‍लाइसेमिया

नींद में कमी, रात के समय पसीना आना, नींद में चलने और बेचैन रहने के कारण नोकटर्नल हाइपोग्‍लाइसेमिया हो जाता है। अगर रात को ब्‍लड शुगर लो रहता है तो सुबह उठते समय सिरदर्द भी महसूस होता है।

हिलना

लो ब्‍लड शुगर आपके सेंट्रल नर्वस सिस्‍टम को भी प्रभावित करता है। इसे नियंत्रित करने के लिए यह कैटेकोलामाइंस रिलीज़ करता है। ये केमिकल्‍स ग्‍लूकोज़ के उत्‍पादन को बूस्‍ट करते हैं।

चक्‍कर आना

ऐसा होने पर आपको किसी भी तरह की चोट से बचने के लिए तुरंत लेट जाना चाहिए। ऐसे में लोग अपनी चेतना खो देते हैं।

मूड स्विंग्‍स

ऐसे में रोना या गुस्‍सा आना सामान्‍य आत है। ये लो ब्‍लड शुगर के कुछ न्‍यूरोलॉजिकल लक्षण हैं।

low 4

बहुत ज्‍यादा पसीना आना

लो ब्‍लड शुगर में सबसे पहले बहुत ज्‍यादा पसीना आना शुरु होता है। लो ब्‍लड शुगर आपके सेंट्रल नर्वस सिस्‍टम पर असर डालता है जोकि त्‍वचा से जुड़ा होता है और इसी वजह से आपको पसीना आने लगता है।

बचाव के लिए क्‍या करें

  • कैंडीज़ या किशमिश के रूप में अपने साथ खाने के लिए कुछ हमेशा रखें।
  • शुगर ड्रिंक, पानी या कोई फ्रूट जूस पीएं।
  • कार्बोहाइड्रेट से प्रचुर स्‍नैक खाएं।
  • सोने से पहले स्‍नैक खाएं जिससे आपको बेहतर नींद आ सके।

ये टिप्‍स रखें ध्‍यान

  • जल्‍दी-जल्‍दी खाएं
  • हाई शुगर युक्‍त चीज़ें जैसे मिठाई, शुगर बेवरेज, फ्रूट जूस ना लें
  • लो जीआई स्‍कोर वाले फूड्स चुनें
  • शराब का सेवन कम या खत्‍म कर दें

खाने के अलावा रोज़ एक्‍सरसाइज़ करना भी बहुत जरूरी है। अगर आप रोज़ एक्‍सरसाइज़ करते हैं तो आपको ज्‍यादा खाने की जरूरत है क्‍योंकि कड़ा व्‍यायाम करने से ब्‍लड शुगर का स्‍तर गिर सकता है। व्‍यायाम से भी ब्‍लड शुगर को संतुलित रखा जा सकता है। अगर आप रोज़ एक्‍सरसाइज़ करते हैं तो आपको अपनी डाइट को भी बढ़ाना चाहिए।

Read source

Image source

Image source 2

Image source 3

Image source 4

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *