फाइबर युक्‍त ये चीज़ें रख सकती हैं डायबिटीज़ को कंट्रोल

fiber

image source

डायबिटीज़ डाइट में फाइबर युक्‍त चीज़ें शामिल करने से रक्‍त शर्करा को बेहतर तरीके से नियंत्रित किया जा सकता है। लेकिन किसी भी तरह के नुकसान से बचने के लिए आपको धीरे और सावधानी से इसका प्रयोग करना चाहिए।

शोधकर्ताओं की मानें तो बताई गई मात्रा में फाइबर का रोज़ सेवन करना सुरक्षित रहता है। फाइबर की कमी डायबिटीज़ और मोटापे के शिकार लोगों के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। अगर आप वजन कम कर रहे हैं या डायबिटीज़ को कंट्रोल रखने की कोशिश कर रहे हैं तो ऐसे में आपको फाइबर की बहुत जरूरत होती है।

शरीर में फाइबर का काम किसी चमत्‍कार से कम नहीं है। किसी भी तरह के स्‍वस्‍थ आहार में फाइबर बहुत जरूरी होता है लेकिन मधुमेह रोगियों के लिए फाइबर ज्‍यादा जरूरी होता है। फाइबर शरीर में कई तरह से काम करता है। ये ब्‍लड ग्‍लूकोज़ के स्‍तर को कम रखने में मदद करता है और मधुमेह रोगियों में यही सबसे अहम कार्य होता है। टाइप 1 डायबिटीज़ और टाइप 2 डायबिटीज़ दोनों में ही फाइबर जरूरी होता है।

हाल ही में हुई एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि डाइट में उच्‍च मात्रा में फाइबर को शामिल करने से ए1सी का स्‍तर कम हो जाता है। ए1सी से पिछले दो से तीन महीने के सामान्‍य ब्‍लड शुगर के स्‍तर की जांच की जाती है।

diet

 image source 2

इसके अलावा फाइबर एलडीएल और बैड कोलेस्‍ट्रॉल को भी कम रखने में मदद करता है। ये दोनों ह्रदय रोग आदि का प्रमुख कारण हैं। मधुमेह रोगियों में ह्रदय रोग के कारण मृत्‍यु का खतरा 2 से 4 गुना बढ़ जाता है। फाइबर का सेवन करने से पेट भरा हुआ महसूस करता है और भूख कम लगती है। ऐसे में वजन को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है।

उम्र और लिंग के आधार पर इतनी मात्रा में फाइबर का सेवन करना चाहिए :

  • 50 से कम उम्र के पुरुषों को प्रतिदिन 38 ग्राम फाइबर लेना चाहिए।
  • 50 से अधिक उम्र के पुरुषों को प्रतिदिन 30 ग्राम फाइबर लेना फायदेमंद रहता है।
  • जिन महिलाओं की उम्र 50 साल से कम है वो प्रतिदिन 25 ग्राम फाइबर का सेवन करें।
  • 50 से अधिक उम्र की महिलाओं को एक दिन में 21 ग्राम फाइबर लेना चाहिए।

प्रतिदिन पुरुषों को 38 ग्राम और महिलाओं को 25 ग्राम फाइबर अपने आहार में शामिल करना चाहिए। अपनी रोज़मर्रा की शारीरिक जरूरतों को पूरा करने के लिए फाइबरयुक्‍त आहार लेने की सलाह दी जाती है।

डायबिटीज़ डाइट में फाइबर का महत्‍व

3

image source 3

फाइबर शरीर को कार्डियोवस्‍कुलर से संबंधित बीमारियों से रक्षा करता है और रक्‍त शर्करा को कंट्रोल रखता है एवं वजन को भी संतुलित रखने में मदद करता है। फाइबर एक ऐसा खाद्य है जो हमारे माइक्रोबियम में गुड बैक्‍टीरिया बनाता है। जितना ज्‍यादा हमारी डाइट में फाइबर की मात्रा ज्‍यादा होगी उतनी ही ज्‍यादा हमारी इम्‍युनिटी और स्‍वास्‍थ्‍य बेहतर रहेगा।

हाई फाइबर डाईट हर किसी के लिए फायदेमंद नहीं होती है। खासतौर पर अगर आपको ग्‍लाइसेमिक इंडेक्‍स से संबंधित विकार जैसे क्रोह्न रोग और अल्सरेटिव कोलाइटिस की बीमारी है तो आपको फाइबर युक्‍त डाइट नहीं लेनी चाहिए। इसमें शरीर फाइबर की ज्‍यादा मात्रा को सहन नहीं कर पाता है।

लेकिन सामान्‍य तौर पर अपनी डाइट में फाइबर को शामिल करने से कई फायदे होते हैं। ए‍क दिन में 50 ग्राम की मात्रा में फाइबर का सेवन करने से ग्‍लाइसेमिक कंट्रोल को भी बेहतर किया जा सकता है।

पाचनक्रिया के दौरान घुलनशील फाइबर जैल के रूप में पानी को आकर्षित करते हैं। कुछ फलों और सब्जियों के अलावा जौ, बीज, सेम, नट  और जई में घुलनशील फाइबर उच्‍च मात्रा में पाया जाता है।

जब तक धुलनशील पानी में मिलता है तब तक ना घुलने वाला फाइबर मल के रूप में एकत्रित हो जाता है। इस तरह का फाइबर साबुत अनाज, सब्जियों और गेहूं के चोकर में होता है।

इन चीज़ों का करें सेवन

fiber 2

image source 4

आहार में फाइबर की मात्रा बढ़ाने का सबसे बेहतर तरीका एवोकैडो है। एक कप कटे हुए एवेकैडो में 10 ग्राम फाइबर होता है। इसमें मौजूद हैल्‍दी फैट एलडीएल कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम कर देते हैं जिससे ह्रदय रोग का खतरा कम हो जाता है।

सूखे मेवों में भी फाइबर उच्‍च मात्रा में होता है। एक चौथाई कप अंजीर में 3.7 ग्राम फाइबर होता है। मधुमेह के मरीज़ रोज़ बादाम भी खा सकते हैं। हालांकि, सूखे मेवों में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा का ध्‍यान रखें।

सेब और नाशपाती में भी फाइबर की प्रचुरता पाई जाती है। आधा कप रसभरी में 4 ग्राम और आधा कप ब्‍लैकबैरी में 3.8 ग्राम फाइबर होता है।

सप्‍लीमेंट्स की जगह प्राकृतिक चीज़ों का सेवन करेंगें तो आपको उनसे विटामिन और मिनरल्‍स भी मिल जाएंगें इसलि सप्‍लीमेंट्स की जगह प्राकृतिक चीज़ों का अधिक सेवन करें।

Read Source

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *