कुछ ऐसा होना चाहिए टाइप 2 डायबिटीज़ के मरीज़ों का डाइट प्‍लान

diet

डायबिटीज़ बेहद खतरनाक बीमारी है जिसमें शरीर के अंदर रक्‍त कोशिकाओं में शुगर या ग्‍लूकोज़ का स्‍तर बढ़ने लगता है। इंसुलिन नामक हार्मोन रक्‍त से शुगर को कोशिकाओं में प्रवाहित करने का काम करता है और इस शुगर को शरीर एनर्जी के रूप में इस्‍तेमाल करता है।

टाइप 2 डायबिटीज़ में शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन के प्रति प्रतिक्रिया नहीं दे पाती हैं। इस बीमारी के बाद के चरण में शरीर में पर्याप्‍त इंसुलिन नहीं बन पाता है।

अगर आप टाइप 2 डायबिटीज़ को कंट्रोल नहीं करते हैं तो इसकी वजह से भयंकर रूप से आपका ब्‍लड शुगर का स्‍तर बढ़ जाता है साथ ही कई गंभीर और खतरनाक लक्षण भी दिखाई देते हैं।

टाइप 2 डायबिटीज़ के लिए डाइट

ब्‍लड शुगर के स्‍तर को सामान्‍य बनाए रखने के लिए सही और संतुलित डाइट लेना बहुत जरूरी होता है। कई रिसर्चों में भी ये बात सामने आई है कि डाइट के ज़रिए टाइप 2 डायबिटीज़ को पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है। डाइट से इस बीमारी को गंभीर रूप लेने से बचाया जा सकता है।

  • समय पर खाना और स्‍नैक खाते रहें।
  • पोषक तत्‍वों से भरपूर फूड्स खाएं जिनमें कैलोरी की मात्रा कम हो।
  • ओवर ईटिंग करने से बचें।
  • फूड लेबल जरूर चैक करें।

इन चीज़ों को चुनें

diet 2

आपको फाइबरयुक्‍त चीज़ों को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। इसके लिए आपको इन चीज़ों को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।

आपको ओमेगा 3 फैटी एसिड युक्‍त ये चीज़ें लेनी चाहिए :

  • ट्यूना
  • साल्‍मन
  • मैकेरल
  • हैलीबट
  • कोड

आप इन फूड्स से मोनो सैचुरेटेड और पॉलीसैचुरेटेड फैट्स ले सकते हैं :

  • ऑलिव ऑयल
  • कैनोला ऑयल
  • पीनट ऑयल
  • बादाम
  • अखरोट
  • एवोकैडो

इन चीज़ों में कैलोरी भी बहुत ज्‍यादा होती है इसलिए इनमें कुछ बदलाव कर के आप इन्‍हें खा सकते हैं। डेयरी प्रॉडक्‍ट्स चुनते समय लौ फैट वाले विकल्‍पों को चुनें।

इन चीज़ों से दूर रहें

diet 3

ऐसी कुछ चीज़ें हैं जिन्‍हें आपको अपनी डाइट में शामिल नहीं करना चाहिए। ये चीज़ें हैं :

  • सैचुरेटेड फैट युक्‍त फूड
  • ट्रांस फैट युक्‍त फूड
  • बीफ
  • प्रोसेस्‍ड मीट
  • शैलफिश
  • ऑर्गन मीट जैसे बीफ और लिवर
  • स्टिक मारग्रेन
  • बेक्‍ड फूड्स
  • प्रोसेस्‍ड स्‍नैक्‍स
  • शुगरी ड्रिंक्‍स
  • हाई फैट डेयरी प्रॉडक्‍ट्स
  • नमकीन फूड
  • फ्राइड फूड्स

अपनी डाइट में न्‍यूट्रिशियन और कैलोरी की मात्रा के बारे में एक बार अपने डॉक्‍टर से परामर्श जरूर करें। आप दोनों मिलकर अपने स्‍वाद और लाइफस्‍टाइल की जरूरत के अनुसार अपने लिए ऐसा डाइट प्‍लान तैयार कर सकते हैं।

ऑफिस में ये स्‍नैक खा सकते हैं :

ऑफिस में बीच-बीच में बहुत भूख लगती है और ऐसे में आप कुछ गलत खा सकते हैं। इससे बेहतर होगा कि आप अपने साथ सूखे मेवे रखें। इनसे आपको ताकत भी मिलती है और भूख भी शांत होती है।

diet 4

इसके अलावा हाल ही में हुई एक रिसर्च में ये खुलासा हुआ है कि वेगन डाइट से डायबिटीज़ की बीमारी को कंट्रोल किया जा सकता है। अगर आप अपनी डाइट में वेगन चीज़ों को शामिल करेंगें तो आप कम समय में ही इस बीमारी पर नियंत्रण पा सकेंगें।

  • वेगन डाइट में होल व्‍हीट ब्रेड, होलसम फूड्स, अनाज और सलाद शामिल होता है।
  • वेगन डाइट में किसी भी तरह का डेयरी प्रॉडक्‍ट शामिल नहीं होता है।
  • इसके अलावा शुगर फ्री उत्‍पाद भी लिए जा सकते हैं।

मार्केट में कई तरह की वेगन डाइट रेसिपी उपलब्‍ध हैं। वेगन डाइट लेने से शरीर में ना केवल इंसुलिन का उत्‍पादन नियं‍त्रित और संतुलित रहता है बल्कि इससे वजन भी कम रहता है।

किसी भी बीमारी को डाइट और एक्‍सरसाइज़ के ज़रिए कंट्रोल या पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है। अगर आप भी इस बात को समझ लें तो डायबिटीज़ को तो कंट्रोल कर ही सकते हैं साथ ही अन्‍य कई तरह की बीमारियों से भी बच सकते हैं।

आपको इस बात को समझ लेना चाहिए कि संतुलित आहार और उचित व्‍यायाम ही स्‍वस्‍थ जीवन का आधार है और जिस व्‍यक्‍ति ने इन दो चीज़ों को अपने जीवन में शामिल कर लिया उन्‍हें कोई बीमारी छू भी नहीं सकती है और कोई बीमारी है भी तो उसे भी पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है।

उम्‍मीद है कि इस लेख को पढ़ने के बाद डायबिटीज़ के मरीज़ अपनी डाइट में सुधार करेंगें और इन चीज़ों को अपने आहार में शामिल करेंगें।

Read source

Image source

Image source 2

Image source 3

Image source 4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *